Class 11 (इतिहास) Chapter- 10 मूल निवासियों का विस्थापन most Important Questions answer

NCERT Solutions for class 11 (history) chapter – 10 Mul nivasiyon ka visthapan Most Important questions and answers

इस अध्याय में हम अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया के मूल निवासियों के बारे में जानेंगे:-

Question: 1 मूल निवासी से क्या अभिप्राय है?

Answer:

मूल निवासी से अभिप्राय यह है कि , ऐसे लोग जो किसी स्थान पर लंबे समय से रहते आ रहे हो तथा उनका जन्म भी उसी स्थान पर हुआ हो ऐसे लोगों को मूल निवासी कहते हैं।

Question: 2 18वीं सदी में यूरोप से आप्रवासी किन-किन देशों में आकर बसने लगे?

Answer:

18वीं सदी में दक्षिण अमेरिका के विभिन्न हिस्सों में तथा मध्य उत्तरी अमेरिका ,दक्षिण अफ्रीका ,ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के इलाकों में यूरोप से आए आप्रवासी बसने लगे। इसके अलावा 19वीं और 20वीं शताब्दी में एशियाई देशों के लोग इनमें से कुछ देशों में आकर बसे।

Question: 3 उपनिवेशिक विस्तार से क्या अभिप्राय है?

Answer:

17वी सदी के बाद स्पेन और पुर्तगाल के अमेरिकी साम्राज्य का विस्तार नहीं हुआ। फ्रांस , हालैंड और इंग्लैंड जैसे दूसरे देशों ने अपने व्यापारिक गतिविधियों का विस्तार करना और अमेरिका , अफ्रीका तथा एशिया में अपने उपनिवेश बसाना शुरू कर दिया।

Question: 4 एबोरिजिनीज किसे कहते हैं?

Answer:

ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप के शुरुआती मनुष्य या आदिमानव को एबोरिजिनीज कहा जाता था।

Question: 5 सेटलर (आबादकार/उपनिवेशी) शब्द से क्या अभिप्राय है?

Answer:

सेटलर शब्द से अभिप्राय किसी स्थान पर बाहर से आकर बसे लोगों से है। इस शब्द का प्रयोग दक्षिण अफ्रीका में डचों के लिए , आयरलैंड न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया में ब्रिटिश लोगों के लिए और अमेरिका में यूरोपीय लोगों के लिए किया जाता है।

Question: 6 वेमपुल बेल्ट से क्या अभिप्राय है।

Answer:

वेमपुल बेल्ट से अभिप्राय है रंगीन सीपियो को आपस में सीलकर बनाई जाने वाली बेल्ट। इसे किसी समझौते के बाद स्थानीय कबीलों के बीच आदान-प्रदान किया जाता था।

Question: 7 चिरोकी कौन थे? उनके साथ क्या अन्याय हो रहा था?

Answer:

चिरोकी संयुक्त राज्य अमेरिका के एक राज्य जॉर्जिया के मूल निवासी थे। वहाँ के मूल निवासियों में चिरोकी ही ऐसे थे जिन्होंने अंग्रेजी सीखने और अमेरिकी जीवन शैली को समझने की सबसे ज्यादा कोशिश की थी। उन पर राज्य के कानून तो लागू होते थे लेकिन उन्हें नागरिक अधिकारों से वंचित होना पड़ा।

Question: 8 आंसुओं की राह से आप क्या समझते हैं?

Answer:

1832 में संयुक्त राज्य अमेरिका के मुख्य न्यायाधीश ‘जॉन मार्शल’ ने कहा चिरोकी कबीला एक विशिष्ट समुदाय है। उनके अपने अधिकार वाले इलाके में जॉर्जिया का कानून लागू नहीं होता है। ये कुछ मामलों में संप्रभुता संपन्न है। परंतु संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति ‘एनडिड जेकसन’ ने मुख्य न्यायाधीश की नहीं मानी और अमेरिकी फौजी सेना के बल पर चिरोकीयों को अपनी जमीन से खदेड़ दिया तथा मार भगाया इनकी संख्या लगभग 15000 थी। इनमें से एक चौथाई लोग अपने आंसुओं की राह के सफर में ही मर गऐ अर्थात अपनी जमीन खो देने के दुख ने ही उनके प्राण ले लिए इसीलिए इसे आंसुओं की राह कहा जाता है।

Question: 9 उत्तरी अमेरिका के संदर्भ में रिजर्वेशन्स (आरक्षण) क्या थे?

Answer:

मूल निवासीयों को छोटे इलाकों में सीमित कर दिया गया। जिसे ‘रिजर्वेशन्सʼ कहा जाता था। यह प्रायः ऐसी जमीन थी जिसके साथ उनका पहले से कोई संबंध नहीं था। इन्हीं जमीनों को ‘रिजर्वेशन्सʼ अथवा (आरक्षण )कहा जाता था।

Question: 10 ऑस्ट्रेलिया की गोरी सरकार ऑस्ट्रेलिया की भूमि को ‘टेरा न्यूलियसʼ क्यों कहती रहती है?

Answer:

‘टेरा न्यूलियसʼ का अर्थ है ऐसी भूमि जो किसी की नहीं है ऐसा वहां पर यूरोपियों द्वारा किए गए भूमि अधिग्रहण को औपचारिक बनाने के लिए कहा जाता रहा है।

डार्विन , पर्थ , सिडनी , एडीलेड , मेलबोर्न तथा केनबेरा

Question: 11 अमेरिका की पूर्व संध्या से क्या अभिप्राय है?

Answer:

अमेरिका की ‘पूर्व संध्याʼ से अभिप्राय उस समय से है , जब यूरोपीय लोग अमेरिका में आए और उन्होंने इस महाद्वीप को अमेरिका का नाम दिया।

Question: 12 इतिहास की किताबों में ऑस्ट्रेलिया के मूल निवासियों को शामिल क्यों नहीं किया गया था?

Answer:

इतिहास की किताबों में ऑस्ट्रेलिया के मूल निवासियों को शामिल इसीलिए नहीं किया गया क्योंकि , यूरोप इतिहासकारों ने ऑस्ट्रेलिया के मूल निवासियों के प्रति भेदभाव की नीति अपनाई। उन्होंने अपनी पुस्तकों में केवल ऑस्ट्रेलिया में आकर बसे यूरोपियों की ही उपलब्धियों का वर्णन किया और यह दिखाने का प्रयास किया कि वहाँ के मूल निवासियों की ना तो कोई परंपरा है और ना ही कोई इतिहास। इसी कारण इतिहास की पुस्तकों में उनकी उपेक्षा की गई थी।

Question: 13 ऑस्ट्रेलिया के स्थानीय लोगों को न्याय दिलाने के लिए कौन से दो महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए?

Answer:

ऑस्ट्रेलिया के स्थानीय लोगों को न्याय दिलाने के लिए निम्नलिखित महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए:-

1. श्वेत तथा अश्वेत लोगों को अलग-अलग रखने के प्रयास में बच्चों के साथ जो अन्याय हुआ है उसके लिए सार्वजनिक सरकारी रूप से माफी मांगी जानी चाहिए।

2. इस बात को मान्यता देना की मूल निवासियों का अपनी जमीन के साथ जो कि उनके लिए पवित्र है मजबूत ऐतिहासिक संबंध रहा है।

Question: 14 उत्तरी अमेरिका के आरंभिक निवासियों की जीवन शैली की कोई तीन विशेषताएं कौन-कौन सी हैं?

Answer:

उत्तरी अमेरिका के आरंभिक निवासियों की जीवन शैली की कोई तीन विशेषताएं निम्नलिखित हैं:-

1. उत्तरी अमेरिका के आरंभिक निवासी नदी घाटों के साथ बने गांव में समूह बनाकर रहते थे।

2. वह मछली और मांस खाते थे और सब्जियां तथा मक्का उगाते थे।

3. वे मास की तलाश में लंबी यात्राएं करते थे। मनुष्य के रूप से उन्हें बाय ट्रेन अर्थात ऑन जंगली भैंसों की तलाश रहती थी , जो घास के मैदान में घूमती रहती थी।

Question: 15 साम्राज्य शब्द से आप क्या समझते हैं?

Answer:

साम्राज्य का अर्थ:- साम्राज्य वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा कोई देश अपनी सीमाओं से बाहर किसी क्षेत्र के आर्थिक तथा राजनीतिक जीवन पर अपना नियंत्रण स्थापित कर लेता है।

Question: 16 साम्राज्य की कोई दो विशेषताएं कौन-कौन सी है?

Answer:

साम्राज्य की कोई दो विशेषता निम्नलिखित है:-

1. सबसे बड़ी पहली विशेषता कि साम्राज्य उपनिवेशिक शोषण है।

2. इसकी दूसरी विशेषता साम्राज्यवादी देश द्वारा अपने उपनिवेशों पर कड़े से कड़ा नियंत्रण स्थापित करना है।

Question: 17 साम्राज्यवाद के उदय में सहायक परिस्थितियां कौन-कौन सी थी? कोई तीन लिखिए।

Answer:

साम्राज्यवाद के उदय में सहायक परिस्थितियां निम्नलिखित हैं:-

1. साम्राज्यवाद के उदय में सबसे बड़ा योगदान औद्योगिक क्रांति का रहा।

2. कच्चे माल की प्राप्ति तथा भारी मात्रा में तैयार माल को खपत के लिए पश्चिम के औद्योगिक राष्ट्रों में साम्राज्यवाद की नीति अपनाई।

3. यातायात तथा संसार के साधनों के विकास घोर राष्ट्रवाद तथा यूरोपीय जातियों के सभ्यताकारी लक्ष्य में साम्राज्यवाद को भावना को तलवान बनाया।

Question: 18 साम्राज्यवाद को बढ़ावा देने वाले देश कौन-कौन से हैं?

Answer:

साम्राज्यवाद को बढ़ावा देने वाले देशों के नाम निम्नलिखित हैं:-

1. ब्रिटेन

2. फ्रांस

3. हॉलैंड

4. पुर्तगाल

5. स्पेन

Question: 19 उत्तरी अमेरिका महाद्वीप के विस्तार भूमध्य तथा संसाधनों का संक्षिप्त वर्णन कीजिए?

Answer:

उत्तरी अमेरिका महाद्वीप के विस्तार भूमध्य तथा संसाधनों का संक्षिप्त वर्णन निम्नलिखित है:-

1. उत्तरी महाद्वीप उत्तर ध्रुवीय वृत्त से लेकर कर्क रेखा तक फैला हुआ है।

2. पथरीले पर्वतों की संख्या के पश्चिम में अरिजोना और नेवाड़ा की मरूभूमि है।

3. पूर्व में विशाल मैदान प्रदेश , महान विस्तृत झीलों ओडियों और अप्लेशियन पर्वतो की घाटियां हैं।

4. दक्षिण दिशा में मैक्सिको है। कनाडा का 40% प्रदेश वनों से ढका है।

5. कई क्षेत्रों में तेल ,गैस और खनिज संसाधन पाए जाते हैं। इनके आधार पर यू.एस.ए और कनाडा में कई बड़े उद्योग स्थापित हैं।

Question: 20 संयुक्त राज्य अमेरिका में दास-प्रथा के प्रचलन पर टिप्पणी कीजिए।

Answer:

दास-प्रथा प्रचलन:- संयुक्त राज्य अमेरिका के दक्षिणी प्रदेश की जलवायु यूरोपीय लोगों के लिए काफी गर्म थी। इसीलिए उनके लिए वहाँ घर से बाहर काम कर पाना कठिन था। अतः वे दास से काम लेना चाहते थे परंतु दक्षिणी अमेरिका उपनिवेशों में दास बनाए गए मूल निवासी बहुत बड़ी संख्या में मौत का शिकार हो गए थे। इसीलिए बागान के मालिकों ने अफ्रीका से दास खरीदें।

Question: 21 दास-प्रथा की समाप्ति किस प्रकार हुई?

Answer:

दास-प्रथा की समाप्ति:- संयुक्त राज्य अमेरिका के समाप्त करने के पक्ष में आवाज उठने लगी और उसे एक अमानवीय प्रथा बताया गया। (1861-1865) ने दास प्रथा के समर्थक तथा विरोधी राज्यों के बीच युद्ध हुआ। इसमें दासता के विरोधियों की जीत हुई। और दास-प्रथा समाप्त कर दी गई।

Question: 22 ऑस्ट्रेलिया में यूरोपीय लोगों के आगमन के प्रति वहाँ के मूल निवासियों की क्या प्रतिक्रिया थी?

Answer:

ऑस्ट्रेलिया में यूरोपीय लोगों के आगमन के प्रति वहां के मूल निवासियों की निम्नलिखित प्रतिक्रियाएं थी:-

1. ऑस्ट्रेलिया की खोज 1770 ईस्वी में अंग्रेज चाविक कैप्टन कुक ने की थी। वहाँ के मूल निवासियों ने कुक तथा उसके चालक दल का स्वागत किया।

2. ऑस्ट्रेलिया के मूल निवासियों के साथ हुई भेंट को लेकर कैप्टन कुक और उसके चालक दल के मैत्रीपूर्ण व्यवहार से भरे पड़े थे।

3. पश्चात एक मूल निवासी कुक की हत्या का दोषी माना गया जिसने हवाई में कुक की हत्या की।

4. यूरोपीय लोगों के आगमन को सभी मूल निवासियों ने खतरा नहीं माना इसका कारण था की उनमें दूर की सोच की कमी थी।

Question: 23 उतरी अमेरिका में मानव के आगमन तथा उपनिवेशीकरण से पूर्व उनकी जीवन-शैली की मुख्य विशेषताएं कौन-कौन सी थी ?

Answer:

उत्तरी अमेरिका में मानव के आगमन तथा उपनिवेशीकरण से पूर्व उनकी जीवन-शैली निम्नलिखित प्रकार की थी:-

मानव का आगमन:- उत्तरी अमेरिका में सबसे पहले निवासी एशिया के थे। वे 30,000 साल पहले बेरिंग स्टेटस के आर-पार फैले भूमि के मार्ग से आए थे।

जीवन-शैली:- यहाँ के लोग नदी घाटी के साथ-साथ बने गांवों में समूह बनाकर रहते थे। वे मछली और मांस खाते थे और सब्जियां तथा मक्का उगाते थे। वे मांस की तलाश में लंबी यात्राएं भी करते थे।

मुख्य रूप से उन्हें ‘बाइसनʼ अर्थात उन जंगली भैंसों की तलाश रहती थी जो घास के मैदान में घूमती रहती थी परंतु वह उतने ही जानवर मारते थे उनको जितनी भोजन के लिए आवश्यकता होती थी।

Question: 24 आप पश्चिमी देशों द्वारा उत्तरी अमेरिका तथा ऑस्ट्रेलिया में विस्थापित मूल निवासियों के विरुद्ध अपनाई गई किन गलत नीतियों की आलोचना करना चाहेंगे?

Answer:

हम पश्चिमी देशों द्वारा उतरी अमेरिका तथा ऑस्ट्रेलिया में विस्थापित मूल निवासियों के विरोध में अपनाई गई निम्नलिखित नीतियों की आलोचना करना चाहेंगे:-

1. मूल निवासियों की स्वतंत्रता का हनन (नुकसान) तथा उन्हें दास (गुलाम) बनाना।

2. मूल निवासियों को अपने मानव अधिकारों से वंचित रखना।

3. उनकी जमीनें तथा रोजी-रोटी के साधन छीन लेना।

4. उन्हें घर से बेघर कर देना।

5. उनके प्रति अपनाए गए क्रूरता की नीति तथा शोषण।

Question: 25 ऑस्ट्रेलिया के अधिकांश आरंभिक आबादकार कौन थे? उन्हें किस शर्त पर ऑस्ट्रेलिया में स्वतंत्र जीवन जीने की अनुमति दी गई थी?

Answer:

ऑस्ट्रेलिया के अधिकांश आरंभिक आबादकार ‘ब्रिटिश कैदी’ थे जो इंग्लैंड से निर्वाचित होकर आए थे। उनके कारावास की अवधि पूरी होने पर उन्हें इस शर्त पर ऑस्ट्रेलिया में ही स्वतंत्र जीवन जीने की अनुमति दे दी गई कि वह ब्रिटेन वापस नहीं लौटेंगे।

Question: 26 अमेरिका के लिए ‘फ्रंटियरʼ के क्या मायने थे?

Answer:

फ्रंटियर यानी किसी आधिपत्य क्षेत्र की सीमा परंतु अमेरिकियों के लिए फ्रंटियर खिसकती रही थी और जैसे-जैसे यह खिसकती जाती मूल निवासी भी पीछे खिसकने के लिए बाध्य किए जाते थे।

Question: 27 यूरोपवासियों द्वारा ‘नयी दुनियाʼ के देशों को दिए गए नामों का उल्लेख कीजिए।

Answer:

1. अमेरिका- पहली बार अमेरिका वेसपुकी का यात्रा वृतांत छपने के बाद।

2. कनाडा- कनाडा से निकला शब्द (मतलब-गांव)

3. ऑस्ट्रेलिया- दक्षिण महासागर में स्थित भूमि के लिए

4. न्यूजीलैंड- हालैंड के तापमान द्वारा दिया गया नाम जिसने सबसे पहले इन टापूओं को देखा (डच भाषा में समुद्र मतलब जी)

Question: 28 17वी सदी में यूरोपीय व्यापारीकों के साथ उत्तरी अमेरिका के स्थानीय निवासियों ने कैसा व्यवहार किया?

Answer:

यूरोपीय व्यापारियों के साथ उत्तरी अमेरिका के स्थानीय निवासियों का व्यवहार दोस्ताना व गर्मजोशी से भरा था। ये लोग मछली और रोएंदार खाल के व्यापार के लिए आए थे जिसमें उन्हें शिकार कुशल देसी लोगों की ओर से अपेक्षित मदद मिली।

Question: 29 ऑस्ट्रेलिया में मानव निवास के इतिहास का वर्णन करते हुए वहाँ के मूल निवासियों की विशेषताएं लिखिए?

Answer:

ऑस्ट्रेलिया के मूल निवासियों की प्रकृति और जलवायु को समझने वाली विशिष्ट पद्धतियों के रूप में समझना चाहिए था जिनके पास अपनी कथाओं और कपड़े साड़ी चित्रकारी हस्तशिल्प के कौशल का विशाल भंडार था।

Question: 30 ‘गोल्ड रशʼ से क्या तात्पर्य है? गोल्ड रश के कारण अमेरिका में हुई औद्योगिक वृद्धि को स्पष्ट कीजिए।

Answer:

गोल्ड रश- 1840 में संयुक्त राज्य अमेरिका के कैलिफोर्निया नाम के शहर में सोने के कुछ चिन्ह मिले जिसे गोल्ड रश कहते हैं। गोल्ड रश के प्रारंभ से रेलवे लाइनों का निर्माण , औद्योगिक नगरों का विकास , कारखानों की संख्या में वृद्धि हुई। यह उस आपाधापी का नाम है जिसमें हजारों की संख्या में चालाक यूरोपीय लोगों में अपनी तकदीर सवार लेने की उम्मीद में अमेरिका पहुंचे।

गोल्ड रश के कारण अमेरिका में हुई औद्योगिक वृद्धि निम्नलिखित प्रकार से हैं:-

1. गोल्ड रश के कारण पूरे अमेरिका महाद्वीप में रेलवे लाइनों का निर्माण हुआ जिससे लोगों को वस्तुओं का आयात-निर्यात करना आसान हो गया।

2. गोल्ड रेश के कारण हजारों की संख्या में चीनी श्रमिकों की नियुक्ति हुई ताकि वे उद्योगों में मजदूरी कर सकें।

3. रेलवे के साज-सामान बनाने के उद्योग विकसित हुए:- ऐसे उद्योग विकसित हुए जिसमें रेलवे के उपकरण बनते जैसे- रेल के डिब्बे , रेल की पटरी इत्यादि।

4. बड़े पैमाने पर कृषि करने वाले यंत्रों का उत्पादन प्रारंभ हुआ:- बहुत बड़े स्तर पर उद्योगों में कृषि करने वाली मशीनें बनने लगी। जैसे- टैक्टर आदि।

5. गोल्ड रश के आने से संयुक्त राज्य अमेरिका और कनाडा में औद्योगिक नगरों का विकास हुआ। नए-नए उद्योग बने तथा जहां पर उद्योग लगे वह जगह बहुत विकसित होने लगी।

Question: 31 संयुक्त राज्य अमेरिका के मूल बाशिंदों को उनकी जमीन से बेदखल क्यों करा दिया गया? उसके लिए कौन-कौन से कारण उत्तरदाई थे?

Answer:

संयुक्त राज्य अमेरिका के मूल बाशिंदों को उनकी जमीन से बेदखल निम्नलिखित प्रकार से किया गया :-

1. ब्रिटेन और फ्रांस से आए कुछ प्रवासी ऐसे थे , जो छोटे बेटे होने के कारण अपने पिता की संपत्ति के उत्तराधिकारी (मालिक) नहीं बन सकते थे। वे लोग अमेरिका में जमीन के मालिक बनना चाहते थे।

2. कैथोलिक प्रभुत्व के देशों में रहने वाले प्रोटेस्टेंट (सुधारवादी) एवं प्रोटेस्टेंटवाद (चर्च के विरोधी) समर्थक देशों के कैथोलिक अनुयायियों ने यूरोप छोड़ दिया और एक नई जिंदगी शुरू करने के लिए अमेरिका में आकर बस गए।

3. ऐसी फसलें उगाकर , जो यूरोप में नहीं उगाई जाती थी , मुनाफा कमाना चाहते थे। उन्होंने ऐसी फसलें (धान तथा कपास) उगाई जो यूरोप में नहीं उगाई जा सकती थीं इसलिए वहां उन्हें ऊंचे मुनाफे पर बेचा जा सकता था।

4. यूरोपीय लोग मूल बाशिंदों को उनकी जमीन से बेदखल करना गलत नहीं मानते थे , क्योंकि उनका मानना था की मूल बाशिंदे जमीन का उपयोग करना ही नहीं जानते।

यूरोपीय लोगों के संयुक्त राज्य अमेरिका के मूल बाशिंदों को उनकी जमीन से बेदखल करने के तरीके निम्नलिखित हैं :

1. धोखाधड़ी से ज्यादा जमीन ले लेना।

2. आधे-आधे पैसे देने का वायदा करके आधे पैसे में ही पूरी जमीन छीन ली गई।

3. जमीन बिक्री समझौते पर दस्तखत कराने के बाद , मूल बाशिंदों को हटने के लिए बाध्य किया।

4. चिरोकी कबीलो को खदेड़ने के लिए अमेरिकी फौज का उपयोग किया गया।

5. जमीन के अंदर सीसा , सोना या खनिज होने का पता चलने पर भी मूल बाशिंदों को उनकी स्थाई जमीन से धकेल दिया जाता था।

Question: 32 सन् 1970 दशक में आए बदलाव के लहरों के कारण ऑस्ट्रेलिया के मूल निवासियों के जीवन पर क्या प्रभाव पड़ा?

Answer:

सन् 1970 दशक में आए बदलाव के लहरों के कारण ऑस्ट्रेलिया के मूल निवासियों के जीवन पर निम्नलिखित प्रभाव पड़े:-

1. ऑस्ट्रेलिया के मूल निवासियों को नए रूप में समझने की चाहत जगी।

2. मूल निवासियों का अपनी जमीन के साथ संबंध आदर से देखा जाने लगा।

3. मूल निवासियों के विशिष्ट संस्कृतियों वाले समुदाय के रूप में देखा गया।
4. मूल निवासियों की धरोहर जैसे- कपड़ा साजी , चित्र , कथाएं और हस्तशिल्प को सराहा गया।

5. प्राकृति और जलवायु को समझने की उनकी विशिष्ट पद्धतियों को पहचाना गया।

6. मूल निवासियों ने अपना इतिहास खुद लिखना शुरू किया।

7. मूल निवासियों की संस्कृति को आदर दिया गया।

8. उनकी संस्कृति का अध्ययन करने के लिए विश्वविद्यालय विभाग खोले गए और संग्रहालय में उनकी कलाकृतियों को विशेष स्थान दिया गया।

Leave a Reply